CSS3 Social Sliding Left Menu with Fullscreen

स्तरीय शिक्षा का आंदोलन

दरअसल परिष्कार कोचिंग संस्थान राजस्थान में कोचिंग के माध्यम से स्तरीय शिक्षा देने का एक आंदोलन बना है। सन् 1999 से अब तक न केवल बापूनगर, जयपुर के केंद्र में हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, भूगोल, राजनीति विज्ञान, लोक प्रशासन, इतिहास, कला एवं संस्कृति, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, दर्शनशास्त्र, सामान्य विज्ञान, गणित, तर्कशक्ति, शिक्षा मनोविज्ञान, विभिन्न विषयों की शिक्षण- पद्धति, वाणिज्य, भौतिकी, रसायनशास्त्र, प्राणीविज्ञान, जीवविज्ञान, कृषिविज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान, नर्सिंग, व्यक्तित्व विकास आदि विषयों का शिक्षण कार्य हुआ है। राजस्थान के शिक्षा-क्षेत्र में परिष्कार का महत्वपूर्ण योगदान यह है कि स्कूलों, काॅलेजों, बी.एड. काॅलेजों, SIERT, डाइटों आदि के स्तर पर जो कमी रही उसकी पूर्ति उन्होंने परिष्कार से प्रापत की और वे नौकरियाँ प्राप्त करने में सफल रहे। परिष्कार कोचिंग संस्थान ने पिछले दो दशकों में राजस्थान में सबसे अधिक शिक्षार्थियों को तो शिक्षण दिया ही है किंतु प्रदेश के उत्कृष्ट शिक्षकों के द्वारा उत्कृष्ट शिक्षा देने का भी प्रयास किया है। यहाँ राजस्थान, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर विश्वविद्यालयों के श्रेष्ठ शिक्षकों से प्रत्यक्ष रूप से या उनसे मार्गदर्शन लेकर शिक्षा दिलवाई। परिष्कार कोचिंग का इस रूप में भी योगदान है कि यहाँ से प्रशिक्षित अनेक शिक्षकों ने जयपुर में ही नहीं, राजस्थान के सभी जिलों और तहसीलों तक कोचिंग स्थान खोले। इसलिए राजस्थान के शिक्षाविदों ने परिष्कार को केवल एक संस्थान ही नहीं ‘मदर आॅफ़ कोचिंग इंस्टीट्यूटस’ कोचिंग शिक्षण संस्थानों की जननी कहा है।